TRP क्या होता है टीआरपी के बारे में पूरी जानकारी

इस लेख में आपको जानने को मिलेगा कि टीआरपी (TRP) क्या होता है आपने अक्सर सुना होगा कि कई सारे चैनल बोलते हैं कि हम नंबर वन है हमको इतने प्रतिशत लोगों ने देखा तो यह सब कैसे पता लगता है टीआरपी का पूरा टीआरपी (TRP) का फुल फॉर्म क्या है ऐसे ही सवालों के जवाब इस लेख में आपको जानने को मिलेगा.

TRP क्या होता है

TRP का फुल फॉर्म क्या है ?

टीआरपी (TRP) का मतलब टेलीविजन रेटिंग पॉइंट्स (Television Rating Point) होता है किसी भी T.V चैनल को कितने बार देखा गया है उसके बारे में बताने का काम करती है.

यह सुविधा जिस डिवाइस की मदद से मिलती है उसे People Meter भी कहते हैं यह सबके घरों में नहीं लगा होता है यह कुछ चुनिंदा घरों में ही लगाया जाता है और जिसके भी घर में या लगाया जाता है उसके बारे में टीवी चैनलों को नहीं मालूम होता है.

TRP क्या होता है सरल शब्दों में

आपने अक्सर देखा होगा कि कोई चैनल नंबर 1 होता है तो कोई चैनल नंबर 2 का होता है यह कैसे पता लगता है यह टीआरपी की मदद से पता लगता है कि कौन सा चैनल किस स्थान पर है आपने अक्सर न्यूज़ चैनल को सबसे ज्यादा यह कहते सुना होगा कि हम नंबर वन है यह सब पता लगाने का काम टीआरपी के जरिए होता है.

किस चैनल को सबसे ज्यादा देखा गया है यह टीआरपी के जरिए ही पता लगता है तो टीआरपी कैसे पता लगती है टीआरपी पता लगाने के लिए कई सारे घरों को चुना जाता है जहां पर पीपल मीटर को लगाया जाता है यह पीपल मीटर यह बताता है कि किस टाइम पर कौन से टीवी चैनल को देखा गया है सबसे ज्यादा बार जिस भी चैनल को लोग ज्यादा बार देखते हैं तो वह नंबर वन हो जाता है.

लेकिन आपको यह भी जानना जरूरी है की टीआरपी भी सिर्फ कुछ ही घरों को लेकर निकाली जाती है पूरे हिंदुस्तान में मात्र 30, 000 से 40,000 हजार ही घरों में यह मीटर लगा हुआ है यानी सिर्फ इन्हीं आंकड़ों से टीआरपी का पता लगाया जाता है भारत की आबादी काफी ज्यादा है यह लगभग 130 करोड़ से ज्यादा है और उसमें इतनी कम संख्या में टीआरपी को निकाला जाता है जोकि पूरी आबादी का 0.5% ही है तो अब आप समझ गए होंगे कि टीआरपी का कैसे पता लगाया जाता है.

टीआरपी से क्या होता है ?

टीआरपी जिसकी ज्यादा होती है उसकी कमाई भी ज्यादा होती है चलिए जानते हैं उसकी कमाई कैसे होती है.

TRP के आंकड़ों की मदद से टीवी चैनल खूब पैसा कमाते हैं जो चैनल नंबर वन होता है उसको विज्ञापन (advertisement) भी ज्यादा मिलता है और उस विज्ञापन के पैसे भी ज्यादा मिलते है आपने देखा होगा कि कोई भी चैनल आप देखते हैं उसके बीच में विज्ञापन आने लगते हैं वह विज्ञापन की मदद से ही यह सारे चैनल अपनी 80% से ज्यादा कमाई करते हैं यह विज्ञापन के भरोसे ही टिके होते हैं जो नंबर वन होता है उसे ज्यादा पैसे भी मिलते हैं

जिस भी चैनल की टीआरपी घटेगी उसे विज्ञापन भी कम मिलेगा जिससे उस चैनल की कमाई भी कम होगी यही कारण है कि टीआरपी का इतना बोल बाला टीवी चैनलों में रहता है.

TRP कैसे देखें और कहां से देखें

टीआरपी की देख-रेख की जिम्मेदारी DART और INTAM इनका नाम की एजेंसियां करती है यह दोनों एजेंसियां टीआरपी को कैलकुलेट करती है DART यानी Doordarshan Audience Research Team इसका पूरा नाम है और INTAM यानी Indian Television Audience Measurement इसका पूरा नाम है.

इन्हीं टीआरपी की सहायता से भारत की सबसे बड़ी रेटिंग एजेंसी BARC यानी Broadcast Audience Research Council हर हफ्ते एक लिस्ट जारी करती है जिसमें बताया जाता है कि इस चैनल को कितने बार देखा गया और कौन सा चैनल नंबर 1 2 3 4 5 के स्थान पर है इसकी जानकारी मिलती है.

यह सब देखने के लिए आपको BARC की वेबसाइट पर जाना होगा उस वेबसाइट का पता यह रहा www.barcindia.co.in इस वेबसाइट पर जाकर आपको पता लग जाएगा कि कौन सा चैनल किस स्थान पर है किस की टीआरपी अधिक है किसकी TRP कम है.

TRP क्या होता है टीआरपी का फुल फॉर्म क्या होता है टीआरपी कैसे निकाला जाता है टीआरपी कैसे देखी जाती है उम्मीद है कि ऐसे प्रश्नों के उत्तर आपको इस लेख में मिल गए होंगे अगर आपको यह लेख पसंद आया तो आप इसे अपने दोस्तों को भी शेयर कीजिए.

TRP से जुड़े कुछ प्रश्नों के उत्तर संक्षिप्त में (FAQ)

सबसे ज्यादा TRP वाला चैनल

हर हफ्ते चैनलों की TRP बदलती रहती है इसलिए यह नहीं कहा जा सकता कि किस इस चैनल का टीआरपी अधिक है.

TRP का फुल फॉर्म क्या है ?

टीआरपी (TRP) यानी टेलीविजन रेटिंग पॉइंट्स (Television Rating Point) होता है.

किसी भी चैनल की TRP कैसे देखें ?

किसी भी चैनल की टीआरपी देखने के लिए आपको BARC की वेबसाइट पर जाना होगा वेबसाइट का पता यह रहा www.barcindia.co.in

टीवी चैनल को टीआरपी से फायदा और नुकसान क्या है

इसका सीधा जवाब जिस चैनल की टीआरपी अधिक है इसका मतलब उसे अधिक जनता देख रही है यानी उस चैनल को विज्ञापन भी अधिक मिलेगा और जिस चैनल को कम जनता देख रही है उसे विज्ञापन कब मिलेगा मतलब सीधा सीधा उनकी कमाई पर असर डालता है

TRP क्या होता है ?

किस चैनल को सबसे ज्यादा देखा गया है यह टीआरपी के जरिए ही पता लगता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.